सच्चा दोस्त हार्ट केयर क्लब

आज के भाग दौड़ भरी जंदगी में हम अपने प्रति, अपने स्वस्थ के प्रति इतने लापरवाह हो जाते है की हम कई बार घातक बीमारी हृदयघात (हार्ट अटैक) को दावत देकर अपने साथ ले आते है, अगर हम अपने दैनिक दिन चर्या में कुछ नियम पालन करेंगे और समय समय पर छोटी-छोटी जांच को करवाते रहेंगे तो हम कभी ह्रदय घात (हार्ट अटैक) के शिकार नहीं होंगे, ह्रदय घात (हार्ट अटैक) एक ऐसा जान लेवा बीमारी है जिसका समय पर उपचार ना हो तो जान भी ले जाता है. ह्रदय घात विशेष कर कुछ कारणों से होता है जिसमे मधुमेह (ब्लड शुगर की बीमारी), उच्च रक्त चाप (ब्लड प्रेशर), कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाने से ह्रदय की धमनिया जाम हो जाती है जिसे हम ब्लॉकेज बोलते है, के साथ ही हमारे बढ़ते हुए वजन का निरन्तरं में ना रहना भी हमें ह्रदय घात की बीमारी की तरफ ले जाता है, और हम चाँद छोटी छोटी जाँच के साथ ही आपके ह्रदय की देखभाल के लिए आ रहे है आपके पास.

आखिर सच्चा दोस्त मीडिया से ह्रदय रक्षण के लिए क्यों आ रहा है आगे

प्रिय बंधू आप जानते होंगे सच्चा दोस्त समूह के संस्थापक स्व. श्री अशोक जी लुनिया का दिनांक 15 मार्च 2017 को देर रात्रि 16 मार्च 2017 को ह्रदय की धड़कन रुक जाने से हमारे सर से पितृ छाया हमेशा के लिए उठ गया. जिसके बाद हमारे द्वारा ह्रदय रोग के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी प्राप्त करने पर पता चला की ह्रदय घात एक दिन में नहीं आता बल्कि कुछ लक्षण ये कुछ समय पूर्व से देता है पर हम अपने दैनिक दिन चर्या में इतने मसगुल होते है की हम हमारे शरीर द्वारा दिए जा रहे उन चेतावनियों को ध्यान नहीं देते ऐसे में हमारे साथ उन्होने तक हो जाती है और हमने हमारे पिता को खोया है इस दर्दनाक बीमारी से हम चाहते है की देश से ह्रदय घात को हमेशा के लिए हम आप मिल कर मिटा दे ताकि फिर कोई बच्चा अनाथ ना हो फिर कोई पत्नी विधवा ना हो, फिर कोई माँ अपने लाल को ना खोये, फिर किसी बाप के बूढ़े कंधो पर बेटे की अर्थी का बोझ ना आये. इस लिए हमने संकल्प लिया है की हम न्यूनतम सहयोग राशि पर आपको नियमित ह्रदय परीक्षण (चेक अप) उपलब्ध करवाए ताकि समय – समय पर हमारा नियमित परीक्षण हो सके.

SD Heart Care Club Registration Form