किये का फल भोगना ही पडेगा

विदिशा से प्रतिनिधि अरुण कुशवाहा की रिपोर्ट: *किये का फल भोगना ही पडेगा* एक राजा बड़ा धर्मात्मा, न्यायकारी और परमेश्वर का भक्त था। उसने ठाकुरजी का मंदिर बनवाया और एक…
Continue Reading
बोलती कलम

आखिर क्यों ढाका की जगह कराची को बनाया पाकिस्तान की राजधानी???

नई दिल्ली। पूर्वी पाकिस्तान का अलग होना पाकिस्तान के लिये सबसे बड़ा झटका था। साल 1970 तक आते-आते पाकिस्तान के दोनों धड़ों में इतना विवाद हो चुका था कि पूर्वी…
Continue Reading

संयम जीवन से सांसारिक जीवन की ओर …

संत कोई भी हो वो संयम जीवन प्रभु भक्ति और सामाजिक कल्याण के साथ श्रावकों को मोक्ष मार्ग प्रदर्शित करने वाले होते है। आदि अनादि काल से ऐसा ही प्रतीत…
Continue Reading

क्षेत्रीय पार्टी का सफाया से राष्ट्रीय दलों का अच्छा समय लौटने के संकेत

#sachchadost गोंद से ब्यूरो चीफ पी के दिवेदी रिपोर्ट : उत्तर प्रदेश की गोंडा विधानसभा चुनाव मे जिस तरह क्षेत्रीय दलो का सफाया हुआ है जो राजनीति मे राष्ट्रीय दलो…
Continue Reading
WhatsApp chat