शिवपुरी : गुडगांंव के रयान स्कूल में हुए जघन्य हत्याकांड के बाद देश और प्रदेश का पुलिस प्रशासन सक्रिय नजर आ रहा है, जिसका असर आज शिवपुरी में भी देखने को मिला, छात्र प्रधुम्न की हत्या के बाद सक्रिय हुए पुलिस और परिवहन विभाग ने आज शहर के सभी स्कूल संचालकों के साथ स्थानीय पुलिस कंट्रोल रूम में बैठक रखी, यह बैठक पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पांडेय के नेतृत्व में हुई, जिसमे सभी स्कूल संचालकों को बच्चों की सुरक्षा की दृष्टि से व्यापक दिशा निर्देश दिए गए साथ ही स्कूल संचालकों की समस्याएं भी सुनते हुए उनके समाधान की बात भी एसपी श्री पांडेय द्बारा कही गई, बैठक में मौजूद आरटीओ श्री कंग ने सुप्रीम कोर्ट का हबाला देते हुए स्कूल संचालाकों को नियमों का पालन करने की बात कही।

इस बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री पांडेय के अलाबा आरटीओ विक्रमजीत सिंह कंग, एएसपी कमल मौर्य,एसडीओपी जीडी शर्मा, शहर के तीनों थाना प्रभारी भी मौजूद रहे।
बैठक में यह दिए निर्देश
बस स्टॉफ की जिम्मेदारी स्कूल संचालकों की होगी,
(पूर्व में ऐसा कई बार देखने में आया था कि कोई भी घटना घटित होते ही स्कूल संचालक यह कहते दिखाई देते थे की हमारा स्कूल बसों से कोई लेनादेना नही है)
स्कूलों में संचालित सभी बस स्टाफ का वेरीफिकेशन स्कूल संचालकों द्बारा पुलिस से कराया जाए। स्टॉफ बदली होने की सूचना भी दी जाये और बस स्टाफ का नाम मोबाईल नम्वर और फोटो के साथ साथ अन्य जानकारी भी बस के बाहर चस्पा किया जाये।
स्कूल के अंदर बाहर सहित खेल मैदान व अन्य स्थानों पर सीसीटीव्ही कैमरे लगाए जाये और स्कूल में आने जाने बाले हर व्यक्ति पर नजर रखी जाए।
स्कूल बसों के अलाबा और कितने बाहन बच्चों को स्कूल छोड़ने आते है इस बात की पूरी जानकारी स्कूल प्रबंधन को होनी चाहिये।
स्कूल के आसपास अगर शराब की दुकान है तो पुलिस को सूचित करें।
बसों में फास्टेएड बाक्स उपलब्ध होने चाहिए।
स्कूल में अनुपस्थित छात्रों की मॉनिट्रिंग भी स्कूल संचालक करें और पालकों से छात्रों के स्कूल न आने का कारण पूछे इसके लिए उन्हें स्कूल में एक अतिरिक्त स्टाफ की नियुक्ति करना पड़े तो वह भी करें।
स्कूल में छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों के अलग-अलग टॉयलेट होने चाहिए।
स्कूल के चारों ओर बाउंड्रीबाल भी होनी चाहिये।

आरटीओ श्री कंग की बात पर बगले झाँकते नजर आये स्कूल संचालक
आज हुई बैठक में जब आरटीओ विक्रमजीत सिंह कंग ने स्कूल संचालकों को बताया कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश है कि हर स्कूल बस में महिला स्टॉफ होने के साथ साथ बस में सीसीटीव्ही कैमरे भी लगे होना चाहिये, अन्यथा की स्थिति में कार्यवाही की जायेगी।
बसों में सीसीटीव्ही कैमरे और महिला स्टॉफ रखे जाने की बात सुनते ही अधिकांश स्कूल संचालक बगले झाँकते नजर आये।

इनका कहना है
आज सभी स्कूल संचालकों की बैठक ली गई है,बच्चों की सुरक्षा से जुड़े हर पहलू पर बात कर निर्देश दिए गए है, दिए गए निर्देशों का पालन कराया जायेगा, अन्यथा की स्थिति में कार्यवाही की जायेगी।
सुनील कुमार पांडेय
पुलिस अधीक्षक
शिवपुरी