भोपाल से सच्चा दोस्त प्रतिनिधि की रिपोर्ट : मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित क्षमावाणी कार्यक्रम के दौरान यह कहकर कि भारत की पावन धरती आचार्य श्री विद्यासागर महाराज की महान कृपा से धन्य हो गई है जीव दया के क्षेत्र में आचार्य श्री की प्रेरणा से जैन समाज ने गायों की रक्षा के लिए गौशालाओं के माध्यम से जो बीड़ा उठाया है उससे पूरे भारतवर्ष में लोग कहने लगे हैं आज जैन समाज जीव दया के क्षेत्र में बहुत आगे है मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा जियो और जीने दो अदभुत मंत्र हैं। उन्होंने कहा कि जैन समाज के लोग यदि बाथरूम में नहाते हैं और उन्हें कोई छोटा कीड़ा दिख जाए तो वह उस कीड़े को पहले बचाने का प्रयास करते हैं जो छोटे कीड़े मकोड़ों को बचाने का प्रयास करता है वह अहिंसा परमो धर्म का सबसे बड़ा पालन करने वाला व्यक्ति होता है उन्होंने कहा कि माता बहनों का सम्मान करना भी बहुत जरूरी है आज लोग इस से थोड़े से भटकते जा रहे हैं उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश में मालवा क्षेत्र में आगर मालवा में गौ अभ्यारण की स्थापना हो रही है और इस वर्ष के अंत तक यह चालू हो जाएगा इसमें लगभग 10,000 गाय रहेगी उन्होंने कहा कि इसके बाद बुंदेलखंड और महाकौशल अंचल में भी इसी प्रकार के गौ अभ्यारण केंद्र प्रारंभ किए जाएंगे जैन समाज के द्वारा आचार्यश्री की प्रेरणा से लगभग 120 से अधिक गौशालाएं मध्यप्रदेश में खोलकर हजारों गायों को संरक्षित किया जा रहा है इस अवसर पर उन्होंने मध्य प्रदेश सरकार की ओर से साल भर में हुई गलतियों पर उत्तम क्षमा कहकर लोगों से हाथ जोड़कर क्षमा मांगी।