#sachchadost
इस दुनिया में कुछ ऐसे लोग हैं जो अजीबोगरीब शौक रखते हैं। ऐसी ही हैं क्वींसलैंड की जॉर्जिया जिन्हें इंसानी खून पीने का शौक है।
फिल्मों में आपने भूत पिशाच की कहानियां तो बहुत देखी सुनी होंगी। आप उनसे खौफ भी खाते होंगे। लेकिन क्या कभी रियल लाईफ के वैम्पायर के बारे में सुना है या देखा है। अगर नहीं सुना तो यहां जानिए। दुनिया में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इंसानों का खून पीने का शौक रखते हैं। इन्हीं में से एक हैं, दुनिया में आकर्षण का केंद्र बनी ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड की रहने वाली 38 वर्षीय जॉर्जिया कॉन्डन जिसे दुनिया, रियल लाइफ वैम्पायर के तौर पर जानती है। ऐसा इसलिए क्योंकि इंसानों का खून पीना उसकी मजबूरी नहीं बल्कि शौक और आदत है। वो बताती हैं कि जब वे 17 साल की थी तब उसने पहली बार इंसानी खून का स्वाद चखा था बस फिर क्या था तब से ही उसे इंसानी खून पीने की आदत लग गई।शुरुआत में तो उसे एक लड़की मिली जिसने उसे कई दिनों तक अपना खून पिलाया। बता दें कि जॉर्जिया को ये खून पीने का चस्का वैम्पायर फिल्में ट्विलाइट, वैम्पायर डायरी जैसी फिल्में देखकर आई। वो बताती हैं कि ब्रिसबेन में उसकी मुलाकात उसके बॉयफ्रेंड जमाएल से हुई जिससे उसने खून पीने की इच्छा जताई। हैरानी की बात ये है कि उनकी ये बात सुन कर वे बिल्कुल भी चौंके नहीं बल्कि इस पर वे फौरन मान भी गए। इसके बाद से वे हर सप्ताह उसे अपना खून पिलाते हैं। हालांकि जॉर्जिया कई लोगों के खून पीने के बाद एनीमिया और थैलीसिमिया जैसी कई बीमारियों से ग्रसित हो चुकी हैं। इसी कारण से उन्हें खून का टेस्ट अच्छा लगता है। इतना ही नहीं वैम्पायर की तरह धूप में भी जाने से उन्हें तकलीफ होती है।